Bewafa Shayari Yaad Shayari

Dard Shayari on Bewafai

अदावतें थीं, तग़ाफ़ुल था, रंजिशें थीं बहुत,
बिछड़ने वाले में सब कुछ था, बेवफ़ाई न थी।

– नसीर तुराबी

तग़ाफ़ुल = अनदेखा करना, Negligence

You Might Also Like

No Comments

    Leave a Reply