Categories
Dosti Shayari

Classic Dosti Shayari

ज़िद हर इक बात पर नहीं अच्छी,
दोस्त की दोस्त मान लेते हैं।

– दाग़ देहलवी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *