Dosti Shayari

Very Sad Shayari on Dosti

मेरा ज़मीर बहुत है मुझे सजा के लिए,
तू दोस्त है तो नसीहत न कर खुदा के लिए।

– शाज़ तम्कनत

Sad Dosti Shayari on Crying

कौन रोता है किसी और की खातिर ऐ दोस्त,
सब को अपनी ही किसी बात पे रोना आया।

– साहिर लुधयानवी

Dost Ko Dushman Sad Shayari

इज़हार-ए-इश्क़ उस से न करना था ‘शेफ्ता’,
ये क्या किया की दोस्त को दुश्मन बना दिया।

– शेफ्ता मुस्तफा खान

Dosti Sad Shayari Bashir Badr

इसी शहर में कईं साल से मेरे कुछ क़रीबी दोस्त हैं,
उन्हें मेरी कोई खबर नहीं, मुझे उन का कोई पाता नहीं।

– बशीर बद्र

Latest Bewafa Dosti Shayari

इस से पहले की बेवफा हो जाएँ,
क्यों न ऐ दोस्त हम जुदा हो जाएँ।

– अहमद फ़राज़

Heart Broken Shayari on Dosti

दिल अभी पूरी तरह टूटा नहीं,
थोड़ी दोस्तों की और मेहरबानी चाहिए।

– हामिद आदम

Dost Ki Jarurat Shayari

ऐ दोस्त हम ने तर्क़-ए-मोहब्बत के बावजूद,
महसूस की है तेरी ज़रूरत कभी-कभी।

– नासिर काज़मी

Judai Shayari on Dosti

आ की तुझ बिन इस तरह ऐ दोस्त घबराता हूँ मैं,
जैसे हर शै में किसी शै की कमी पाता हूँ मैं।

– जिगर मोरादाबादी

Tanha Dosti Sad Shayari

मुझे दुश्मन से अपने इश्क़ सा है,
मैं तन्हा आदमी की दोस्ती हूँ।

– बक़र मेहदी

Dost Dosti Nibha De Shayari

मुझे दोस्त कहने वाले ज़रा दोस्ती निभा दे,
ये मुतालबा है हक़ का कोई इल्तिज़ा नहीं है।

– शकील बदायुनी

Best Dosti Sad Shayari

मोहब्बत में दिखावे की दोस्ती न मिला,
अगर गले नहीं मिलता तो हाथ भी न मिला।

– बशीर बद्र

Dard Bhari Shayari on Dost

मेरे हम-नफ़स मेरे हम-नवा मुझे दोस्त बन के दग़ा न दे,
मैं हूँ दर्द-ए-इश्क़ से जान-बा-लब मुझे ज़िन्दगी की दुआ न दे।

– सकील बदायुनी