Categories
Hindi Jokes

अभी सांस लेने की फुर्सत नहीं

अभी सांस लेने की फुर्सत नहीं है कि तुम मेरी बाहों में हो…
.
.
.
इस कविता में कवि कह रहा है कि
माशूका वजन में बहुत भारी है।

स्वप्नल, नोएडा