Categories
Independence Day Shayari

Watan Mere Shayari on 15 August

हम अपने खून से लिक्खें कहानी ऐ वतन मेरे,
करें कुर्बान हँस कर ये जवानी ऐ वतन मेरे।

दिली ख्वाहिश नहीं कोई मगर ये इल्तिजा बस है…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *