Categories
Sad Shayari

Taare Tutt Jaate Hai

कभी कभी मोहब्बत में वादे टूट जाते हैं,
इश्क़ के कच्चे धागे टूट जाते हैं,
झूठ बोलता होगा कभी चाँद भी,
इसलिए तो रुठकर तारे टूट जाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *