Categories
Sad Shayari

Vo Kareeb Hi Naa Aaye

वो करीब ही न आये तो इज़हार क्या करते,
खुद बने निशाना तो शिकार क्या करते,
मर गए पर खुली रखी आँखें,
इससे ज्यादा किसी का इंतजार क्या करते।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *